Quantcast
Channel: TwoCircles.net - हिन्दी
Viewing all articles
Browse latest Browse all 597

प्रधानमंत्री मोदी ने महाराष्ट्र की जनता से दागी प्रत्याशियों को वोट देने का आग्रह किया

0
0

By ए. मिसराब, TwoCircles.net,

मुम्बई: “तुम कमल का बटन दबाओगे. तो वोट मुझे ही जाएगा”, ऐसा कहना है नरेन्द्र मोदी का, जिसे उन्होंने लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान बार-बार दोहराया और अब महाराष्ट्र विधानसभा चुनावों में भी वे यही बात कह रहे हैं. आश्चर्य की बात तो ये है कि मोदी इस बात को उस वक्त भी दुहराते हैं जब वे महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में खड़े हो रहे आपराधिक वारदातों के आरोपी और विवादास्पद प्रत्याशियों के पक्ष में चुनाव प्रचार कर रहे हैं.

लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान मोदी ने अपने सारे भाषणों को भ्रष्टाचार से घिरी कांग्रेस और दूसरे नेताओं की मुखालफत में केंद्रित कर दिया था. इसके साथ उन्होंने यह भी दावा किया था कि सत्ता में आने के बाद आपराधिक छवि वाले सारे नेताओं को वे सलाखों के पीछे भेज देंगे. इसके बाद लोगों ने उनके वादों पर भरोसा कर उन्हें चुना, इसके बाद मोदी अपने वादों को भूल गए और अब वे अपनी ही पार्टी के दागी प्रत्याशियों के पक्ष में मतदान करने के लिए प्रचार कर रहे हैं.



राहुरी विधानसभा क्षेत्र में दागी प्रत्याशी शिवाजी कर्दिले (घेरे में) के समर्थन में प्रचार करते हुए (तस्वीर साभार - एचटी मीडिया)

अहमदनगर के राहुरी विधानसभा क्षेत्र में गुरुवार को प्रचार करते हुए मोदी ने भाजपा के प्रत्याशी शिवाजी कर्दिले, जिनके खिलाफ़ हत्या और धनउगाही समेत लगभग 12 आपराधिक मुकदमे दर्ज़ हैं, को वोट देने के लिए लोगों से आग्रह किया.

आश्चर्य की बात तो यह है कि ठीक एक दिन पहले मोदी ने कांग्रेस-राकांपा जैसी पार्टियों पर आपराधिकता को बढ़ाने का आरोप लगाते हुए कहा था, ‘अगर वे आपकी घर या दुकान खाली कराना चाहते हैं तो वे आपको घरों पर बाहुबली भेजते हैं. अब समय आ गया है कि ऐसे बाहुबलियों को जेल भेज दिया जाए.’

गुरुवार को नरेन्द्र मोदी के साथ मंच साझा करने वाले भाजपा प्रत्याशी और मौजूदा विधायक कर्दिले २००२ में नगर कोऑपरेटिव बैंक जालसाज़ी के आरोप में एक साल की जेल काट चुके हैं. इसी केस में उन्हें न्यायिक मजिस्ट्रेट (प्रथम) एम.एस. तोड़कर द्वारा जुलाई में सजा सुनाई जा चुकी है.

२०११ में हत्या, धमकी, जालसाजी और हत्या के प्रयास के साथ कर्दिले पर आरोप भी तय हो चुके हैं. अहमदनगर के अशोक लेनदे की हत्या के केस में भी आरोपी हैं, जिसका ट्रायल नासिक जिला स्तर न्यायालय में अभी भी चल रहा है.

बीते दो नामांकनों के दौरान दिए गए संपत्ति के ब्यौरे में 14 करोड़ का इज़ाफा हुआ है. 2009 के चुनावों में दौरान कर्दिले के घोषित संपत्ति लगभग दो करोड़ तैतीस लाख थी, जो इस साल बढ़कर सोलह करोड़ तिरासी लाख हो गयी.

इस तरह कर्दिले वे दूसरे आपराधिक छवि वाले नेता हो गए हैं जिनका प्रचार प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने किया है. कर्दिले के लिए प्रचार करने के ठीक दो दिनों पहले मोदी ने अनिल गोटे के लिए प्रचार किया जिन पर २००२ में अदुल करीम तेलगी के साथ कई करोड़ों के स्टैम्प स्कैम केस में मकोका लगाया गया, और उन्होंने जमानत मिलने के पहले कुछ महीने जेल में भी बिताए हैं.

(अनुवाद: सिद्धान्त मोहन)


Viewing all articles
Browse latest Browse all 597

Latest Images

Trending Articles





Latest Images